कामुकता क़हानिया दीदी के संग मस्तियाँ


Bhai Behen ki chudai kahani : सभी लंड धारियों को मेरा लंडवत नमस्कार और चूत की मल्लिकाओं की चूत में उंगली करते हुए नमस्कार। नॉनवेज स्टोरी के माध्यम से आप सभी को अपनी स्टोरी सुना रहा हूँ। मुझे यकीन है की मेरी सेक्सी और कामुक स्टोरी पढकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाएगे और सभी चूतवालियों की गुलाबी चूत अपना रस जरुर छोड़ देगी।

हेलो दोस्तो, मेरा नाम मनीष है और मेरी उमर 18 साल है. मैं गुजरात का रहने वाला हूँ. और मेरी ये पहली कहानी है जो मैं आप सब के लिए ले कर आया हूँ. मुझे उमीद है आप को मेरी ये आज की कहानी पसंद आएगी. तो चलिए बिना टाइम खराब किए मैं सीधा कहानी पर ही आता हूँ.

ये बात आज से 1 साल पहले की है जब मैं 18 साल का था. मेरे घर मे मेरे मम्मी पापा और मेरी एक बड़ी बेहन सीमा रहती है. सीमा की उमर 22 साल है और वो बहुत ही सेक्सी और हॉट है. उसका फिगर 32-28-34 है. मुझे दीदी के बूब्स बहुत अच्छे लगते है.

मेरे और दीदी के बीच बहुत ही प्यार है. मैं दीदी का जब कोई काम करता हूँ तो दीदी मुझे मेरे गाल पर किस करती है. और अगर दीदी मेरा कोई काम करती है तो मुझे दीदी को किस करना पड़ता है. हम दोनो मे एक कामन है. वैसे भी मैं घर मे सब से छोटा हूँ इसलिए मुझे सब बहुत प्यार करते है.

वैसे मैं 18 साल का हूँ पर वो मुझे सब के सब सिर्फ़ 10 या 12 साल का ही मानते है. आज की डेट मे दीदी की शादी हो गयी है. और जब मैं 18 साल का था तब उससे पहेले मेरे और दीदी के बीच बहुत लड़ाई होती थी. पर जब से हम दोनो मे सेक्स का रीलेशन बना. तब से हम दोनो मे प्यार ही प्यार रह गया है. मैं और दीदी एक दूसरे को बहुत प्यार करते है.

अब मैं आप को बतौँगा की आख़िर हम दोनो मे सेक्स का रीलेशन केसे शुरू हुआ. हुआ कुछ ऐसे की जब मैं 18 साल का था और दीदी 22 साल की थी. हम दोनो एक दिन बाहर किसी काम से आक्टीवा पर गये हुए थे. दीदी हमेशा आक्टीवा ड्राइव करती थी. उन्होने कभी मुझे ड्राइव न्ही करने दिया. उस दिन भी मैं हमेशा की तरह उनके पीछे बैठा हुआ था.

वापिस आते हुए बहुत तेज बारिश होने लग गयी. मैने दीदी से कहा की दीदी कही रुक जाते है इस बारिश मे ड्राइव करना ज़रा भी सेफ न्ही है. पर दीदी हमेशा से ही अपनी चलाती थी.

उस दिन भी उन्होने मेरी कोई बात न्ही मानी थी. और मुझे कहा की तू कस्स कर मुझे पकड़ ले बस. मैं दीदी के पीछे बैठा हुआ था मैने अपने दोनो हाथ उनके पेट से लपेटे हुए थे. और दीदी खाली रोड पर आक्टीवा को राइट और लेफ्ट घुमा रही थी.

मुझे उनके पीछे बैठ कर बहुत ज़्यादा डर लग रा था. मैं दीदी को बार बार कह रा था की ध्यान से चलो प्लीज़ वरना हम गिर भी सकते है. क्योकि बारिश की वजह से रोड पर एक भी बाइक न्ही थी. सिर्फ़ कार ही चल रही थी इसलिए भी मुझे काफ़ी डर लग रा था. मैं दीदी से बार बार कह रा था की प्लीज़ वो धीरे चलो लो. पर दीदी है की मेरी एक बात भी न्ही सुन रही थी.


Online porn video at mobile phone


ma ki chudaibaap beti antarvasnaindian sex kahaniantarvasna bap betiantarvasna antisex grildedi sexmaakichudaikahani.netmaid sex storywife sex storiesbus sex storiesantarvasna ki photobhai ne choda??? ?? ?????porn stories in hindisex stories incestsexi khanisex story englishhindi sec storiesantarvasna mausi ki chudaiantarvasna new story in hindioffice sex storiessex antyantarwasanabaap beti ki antarvasnahot sex storiessister sex storieslatest antarvasnagay desi sexantarvasna kahani hindi mebhavi sexfuck storyammayi sexdesi sexyboor ki chudaibhabhi ki jawaniantarvasna hindimarathi hot storiestamanna sex storiesdesitalesantarvasna with picturefree sex storiesgirl antarvasnaaunty ki chudailadki ki chudai???antarvasna desi storieshindi sexi storyantarvasna hindi stories galleriesgujarati sexhindi sx storyantarvasna samuhik chudaihindi gay sex kahanibhai bahan ki chudaimami ko chodajija sali sex storiesfree sex hindisex stori in hindiantarvasna hindi 2016savita bhabhi hindisali sexantarvasna.sexy school girlsindian incest storyindian sex stories in hindiantarvasna babaantarvasna hindi stories photos hotkamukta. comsexy reshmaantarvasna story downloadantarvasna porn videoshindipornrishto me chudaiantarvasna rapedidi ki antarvasnabhabhi chudainangiantarvasna with imagereal sex storyanatrvasnaxxx stories hindisexy stories in englishmum sexfriends wife sexhot sister sexhindi story sexaantarvasana