घर के अँधेरे कमरे में दोनों चाचियों को एक साथ नंगी चोदा


हेल्लो दोस्तों मैं मनीष आप सब के लिए अपनी पहली कहानी आज लेकर आया हूँ. मुझे उम्मीद है की आप को ये पसंद आएगी. तो चलिए टाइम खराब ना करते हुए मैं कहानी शरु करता हूँ. दोस्तों मैं हरयाना का रहनेवाला हूँ और जॉइंट फेमली में रहता हूँ. मेरी फेमली में मेरे मम्मी पापा और दो चाचा चाची भी रहते है. दोनों का एक एक बच्चा भी है. मेरी बड़ी चाची मीना का एक 15 साल का लड़का है और छोटी चाची शीतल की 8 साल की लड़की है. मेरे दोनों चाचा पंजाब में एक फेक्ट्री में लगे हुए है और वो दोनों दो हफ्ते में एक बार ही घर आते है. मैं करनाल में स्टडी करता हूँ इसलिए वही पर रहता हूँ. मैं घर में तभी आता हूँ जब मैं अपने एग्जाम दे के करीब 2 महीने के लिए फ्री हो जाता हूँ. और आगे बढ़ने से पहले मैं आप को बता दूँ की मैं अपनी दोनों चाची की चूत मार चूका हूँ. मैंने उन दोनों के साथ उतनी बार चुदाई की है जितनी उन्होंने अपने हसबंड के साथ भी नहीं की होगी. मेरे लोडे 6 इंच लम्बा और 2 इंच मोटा है इसलिए दोनों चाची उसके ऊपर फ़िदा है. मैं जब चाहूँ अपनी दोनों में से किसी भी चाची की चूत को लेता हूँ.

मेरी दोनों चाचियाँ सच में बड़ी ही मस्त है. अब मैं आप को उन दिनों की डिटेल बताता हूँ. बड़ी चाची मीना की मैं पहले बात करूँ. उसकी उम्र 34 साल की है और उसका 15 साल का लड़का है. एक बच्चे की माँ ओने के बावजूद भी वो जैसे की ऐसी ही जवान है. उसको देखकर लगता है की वो 25 -26 साल की ही है. रंग गोरा और चहरा एकदम खिला हुआ. उसके मस्त लाल लाल होंठ बस देखते ही चुने के दिल करता है. थोडा निचे चले तो गोल गोल बूब्स है हमेशा उनकी साडी के ब्लाउज को फाड़ने को बेकरार रहते थे. थोड़ी मोटी सी कमर पर एकदम सेक्सी. उसके निचे मोटे मोटे चूतड. और उसके ठुमकों पर मेरा लंड फ़िदा है!

मेरी दोनों चाची भी पढ़ी लिखी है. इसलिए वो दोनों बहुत ही चालाक है और उन्हें अच्छे से पता है की अपने पति को कैसे संभालना है. वो दोनों अपने फिगर और अपनी खूबसूरती का पूरा ध्यान रखती है. इसलिए उन्होंने पुरे गाँव के लड़के अपने पीछे लगाए हुए है. पर मैं किसी को अपनी चाचियों की तरफ देखने भी नहीं देता. और ना ही मेरी दोनों चाची किसी और की तरफ देखती थी. और दोनों मुझे अक्सर कहती थी की जब घर में ही 6 इंच का लौडा है फिर भला बहार क्या देखना किसी को भी.

इस बार जब मैं अपने एग्जाम दे के घर आया तो मेरे दिन काफी अच्छे चल रहे थे. मैं रात को मौका देख कर अपनी दोनों चाचियों को बारी बारी से चोद देता था. पर मेरा दिल कब से दोनों को एक साथ चोदने को था. एक दिन की बात हैं मैं जब उठा तो मैंने देखा की मम्मी घर पर नहीं है और पापा भी अपने काम पर गए हुए थे. मैंने किचन में जा के देखा की मेरी दोनों चाची खाना बना रही थी. मैं चुपके से किचन में गया और मीना चाची को पीछे से अपनी बाहों में भर लिया. उनके चिकने पेट पर मेरे दोनों हाथ थे.

Comments 1

  • किसी भी भाभी या लड़की को चूदबाना हो तो इस न पर काल करे मुरादाबाद से 7457088180 WhatsApp

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *


Online porn video at mobile phone


best desi sexantarvasna sex storiessex story indianchoot ki chudai????? ?????sex stories in hindi antarvasnasavita bhabhi sexsexy reshmabhabhi antarvasnahindi sex storiesex in trainsexi khaniwww antarvasna hindi stories comantarvasna didi ki chudaibhabhi sex storyantarvasna audio storysex stories desi???sex story indianboor ki chudaisexstories in hindiantarvasna free hindiantarvasna samuhik chudaiindian sex stokahani in hindichudaikahanibengali porn storieshindi antarvasna videoantarvasna boygay sex stories indianantarvasna mami ki chudaiantarvasna dot komghar me chudaiantarvasna 2009desi antarvasnaindian maid sex storieskamuk kathajija sali sex story in hindimom ki antarvasnaantarvasna sexstoriesbengali porn storyboob sucking storiesantarvasna picsindain sex storieshindi sex comicsex chudaisex with friends wifekamukata story??? ?? ?????hindisex storiesantarvasna betisex stories in bengaliantarvasna oldrishton mein chudaixossip requestbahan ko chodadesi hindi sexfree antarvasna comtution sexmastram netaunty uncle sexhot hindi sex storylatest desi kahaniincest sex storiesantarvasna sexstoriessexy kahani in hindiwww new antarvasna commatkatushot story hindiindian sex desi storiesunnimary hotmaa bete ki chudaimummy sex