भाभी को खुश करने के लिए


हेलो दोस्तो मैं समीर आज पहली बार अपनी जिंदगी की सच्ची और मस्त घटना को आपके सामने पेश करने जा रा हूँ. मुझे उमीद है आप को मेरी ये कहानी पसंद आएगी. तो चलिए बिना टाइम खराब किए मैं अपनी कहानी शुरू करता हूँ.
दोस्तो ये कहानी आज से 2 साल पहले की है. मैने आज से 2 साल पहले अपनी ऋतु भाभी को चोदना शुरू किया था और अभी भी मैं उन्हे अवसर मिलते ही चोद देता हूँ. दोस्तो मेरी उमर 20 साल है और मैं पंजाब मे रहने वाला हूँ. मैं ब.ए कर रा हूँ. और दिखने मे हॅंडसम भी हूँ. मैं एक मजाकिया टाइप का लड़का हूँ मैं किसी को भी 1 सेकेंड मे हॅसा देता हूँ.

ऋतु भाभी की शादी को 3 साल हो गये थे. गगन भाईया मेरा टाइया जी का लड़का है. पर शादी होने से पहले ही टाइया जी की मृतु हो गई थी.
मेरी टाई एक कॉसमॅटिक की शॉप चलती है. और गगन भाईया डी.जे का काम करते है. इस लिए वो शादियो के टाइम मे घर से 7 -7 दिन बाहर रहते है. गगन भैया एक नंबर के हरामी इंसान है. वो अपनी हर डॅन्सर को चोद्ते थे.

मेरे घर पर जिस दिन कोई नही होता था तो वो हर बार किसी नयी लड़की को मेरे घर मे ला कर चोद्ते थे. मेरे घर से भाईया का घर 30 मिनिट की दूरी पर था. ऋतु भाभी गगन भाईया पर बहुत शक करती थी. शादी के 2 साल मे ही भाभी को एक लड़की हो गई थी. भाभी बहोट ही सेक्सी और हॉट थी. उसके बूब्स ज़्यादा बड़े ना थे पर बच्चे ने बूब्स को चूस चूस कर काफ़ी बड़े कर दिए थे.
मैं अक्सर भाभी के पास जाता रहता था. इसलिए हम दोनो मे काफ़ी बनती थी. मैं भाभी को बहोट पसंद करता था और उन्हे चोदना चाहता था. पर मुझे अभी तक कोई मौका नही मिल रहा था जिसे मैं उन्हे चोदु. पर भगवान ने मेरी सुन ली एक दिन मैं सुबह 11 ब्जे भाभी के घर गया. तो भाभी बैठी ट.व्हि देख रही थी. पहले वो काफ़ी उदास थी पर मुझे देख कर वो बहुत खुश हो गई.
भाभी ने कहा थॅंक्स गॉड तुम आ गये. मैं बहुत बोर हो रही थी और कहा तुम बैठो मैं नहा कर आती हूँ. मैं सोफे पर बैठा हुआ था. पर जब बातरूम मे से नहाने की आवाज़ आने लगी तो मैं खुद को रोक नही पाया. क्योकि घर मे मेरे और भाभी के सिवा सिर्फ़ छोटी सी लड़की थी. मैं बातरूम के पास गया और साइड मे से देखने लग गया. मैने भाभी का नंगा जिस्म पहली बार देखा था. मैं भाभी को नंगा देख कर पागल हो गया.
इससे पहले मैं ज़्यादा पागल होता मैं वाहा से वापिस आ कर सोफे पर बैठा गया. जब भाभी नहा कर आई तो उनके बाल गीले थे. उन्होने वाइट कलर का टॉप विदाउट ब्रा डाला हुआ था. जिस की वजह से उनके बूब्स मुझे दिख रहे थे. और नीचे एक घुटनो तक की शॉर्ट निकर टाइप डाली हुई थी. भाभी की नंगी चिकनी गोरी टाँगे देख कर मेरे मूह मे पानी आ गया.
भाभी मेरे लिए चाय बना कर ले आई और मुझे कहा चलो बेडरूम मे चलते है वाहा बैठ कर बातें कारगें. चाय पीते पीते हम दोनो बातें करने लग गये. चाय खत्म जैसे ही हुई तो भाभी का बेबी उठ गया वो रोने लग गया. भाभी ने उसे अपनी गोद मे लिया और अपना टॉप उपर करके उसे दूध पिलाने लग गई.
मैं भाभी के दूसरी तरफ मुंह कर के बैठ गया था. पर सामने मिरर मे से मैं भाभी के गोरे बूब्स देख रा था. जब भाभी को पता चला तो भाभी शरमा गई और उसने अपने बूब्स को छिपा लिया. मुझे काफ़ी शरम महसूस हुई इसमे. भाभी ने बेबी को दूध पीला कर फिर से सुला दिया. वो मेरे पास आई और चिपक कर उदास हो कर बैठ गई. जब मैने उससे बात पूछी तो वो रोने लग गई. और मेरे सीने से लग कर और ज़ोर कर रोने लग गई.

फिर भाभी बोली मुझे पता है समीर तुम मुझसे सेक्स करना चाहते हो. और मैं भी अपनी चूत को तुम्हारे लंड से शांत करवाना चाहती हूँ. ये सुनते ही मैने भाभी का चेहरा अपने हाथो मे लिया और करीब 15 मिनिट तक उनके होंठो को चूस्ता रहा. भाभी भी लिप्स किस मे मेरा पूरा साथ दे रही थी.
उसके बाद हम दोनो पूरे नंगे हो गये क्योकि भाभी को पता था की उसकी सासू माँ अब घर आने वाली है लंच करने के लिए. हम दोनो 69 की पोजिसन मे आ गये. वो मेरा लंड चूस रही थी और मैं उनकी गुलाबी चूत को. भाभी ने मुझे कहा की तुम्हे देख कर लगता नही की तुम्हारे पास इतना बड़ा लंड होगा. खैर इस लंड से आज मेरी प्यास काफ़ी अच्छे से शांत हो जाएगी.
भाभी की चूत ने बहुत जल्दी ही पानी छोड़ दिया था. जब मेरा पानी निकालने वाला था तभी उसकी सासू मा आ गई. हम दोनो जल्दी से अपने कपड़े डाले और मैं सोफे पर आ कर बैठ गया. मेरी त्याई ने मुझे कुछ देर बातें करी और कहा बेटा मैं सोने जा रही हूँ. भाभी ने पूछा क्या बात अब आप वापिस शॉप पर नही जयोगी क्या. त्याई ने कहा की आज उनकी तबियत ठीक नही है इसलिए वो शॉप बंद कर के आ गई है. मुझे ऐसा लगा की जेसे मेरे खड़े लंड पर किसी ने ज़ोर से डंडा मार दिया है.
मैं बहोट उदास हो गया. पर तभी भाभी आई और उसने कहा की तुम ज़ोर से बस ये कह दो की मैं जा रा हूँ. मैने भाभी की बात मानी और टाई के रूम मे जाकर मैने उनसे जाने की इजातत ले ली. पर भाभी ने मुझे फिर अपने रूम मे छिपा लिया था. भाईया ने तो आज रात आना नही था. मैने आज अपने घर फोन कर दिया था की मैं आज रात नही आऊँगा. रात को 10 बजे टाई डिन्नर करके सो गई थी.


Online porn video at mobile phone


www antarvasna videohindi gay sex storysex hindi kahanidesi sex photobhai behan ki chudaiantarvasna siteantarvasna with picssex stories marathiantarvasna sexstorieschudayiantarvasna latest storybhabhi massagebap beti antarvasnadeshipornsavitha bhabhi storiesantarvasna sex videosgangbang sex stories???antarvasnasex stories in marathiantarvasna hchudai storiessexstories.comhindi gay kahanibhai ne chodaantarwsnaantarvasna story 2015antarvasna xchudai khaniyabehan ki chudaisexy ladkichachi ki antarvasnabhai ne chodaantarvasna sex hindisex with uncleantarvasna storymother sex storiesxxx sex storiesantarvasna website paged 2suhagratchuthantarvasna hindi sex storyantarvasna suhagrat storyantarvasna bfhot hindi sex storiesdesi gay storyiss sex storiessex.storiesantarvasna home pagefuck storyantarvasna hd videoantarvasna xxx storyindian sex hothindi chudaiindian desi sex storiesantarvasna doodhporn hindi storyhot hindi sexsavita bhabhi sex storiesanterwashnaantarvasna story hindi mesex stories antarvasnahindi sex chatgand mari????? ?????bhabhi ki jawanihindi me antarvasnamy bhabhisexey girlsantarvasna latestantarvasna ma?????? ????? ??????kamukatadedi sexoffice sex storiesantarvasna in hindi comantarvasna chudaihindi kahaniyawww antarvasna sex storyindian gay sex storybest indian sex storiessex with auntiesantarvasna sex hindi kahaniantarvasna wwwwww.hindi sexbengali porn storiesmastram ki kahaniyahindi sx storywww antarvasna story comantarvasna story 2016sex stories incestsavita bhabhi sex storiesindian sex stm.tnaflixmarathi antarvasnanew antarvasna 2016bhai behan ki antarvasnamaa ko choda antarvasna