Bachpan Mai Maami Ki Chudai Ki


Click to Download this video!

Bachpan Mai Maami Ki Chudai Kiदोस्तो, मेरा नाम सुजीत कुमार है, बात उन दिनों की है जब मैं बारहवीं का छात्र था, मैं छुट्टियों में अपने मामा के घर रहने के लिए गया था।

मेरे मामा की पत्नी यानि मेरी मामी कमाल की खूबसूरत है, वैसे तो वो दो बच्चो की माँ है लेकिन वो चाहे तो किसी को भी अपने आगे पीछे नचा सकती है।

मैं जब मामा के घर पहुँचा तो मैंने दरवाजा खुला देखा और बिना किसी को आवाज़ लगाये मैं अन्दर चला गया। जैसे ही मैं अन्दर पहुँचा, मेरे होश उड़ गए, मामी अपना पेटीकोट पहन रही थी और उनकी नंगी चूचियाँ हवा में झूल रही थी।
मैंने एक पल के लिए देखा और ‘सॉरी मामी जी…’ बोल कर आगे वाले कमरे में चला गया।

मामी मेरे पास आई और मुझ पर नाराज होने लगी, कहने लगी- तुम्हें कम से कम आवाज़ देकर तो आना चाहिए था!
यह सुनते ही मुझे थोड़ा बुरा लगा और मैंने भी जवाब दे दिया- आपको भी तो दरवाज़ा बंद करके नहाना चाहिए था!

इस पर वो कुछ नहीं बोली और चली गई, थोड़ी देर बाद वो मेरे लिए पानी लाई, मैंने पानी पिया और फिर वो मुझसे मेरे घर के सभी लोगों के बारे में पूछने लगी।
मैंने उनसे कहा- सब ठीक है।
और बाज़ार चला गया।

वापस लौटने में शाम हो गई, जब मामी का फोन आया तो मैंने कहा- आ रहा हूँ।
जब मैं घर आया तो रात के 9:30 हो रहे थे, मैंने खाना खाया और मामी से कहा- मैं अब सोने जा रहा हूँ।
उन्होंने कहा- ठीक है।

ठीक एक घंटे बाद मामी मेरे कमरे में आई और कहा- सो गये क्या सुजीत?
मैंने जवाब दिया- नहीं मामी, ऐसे ही लेटा हूँ, क्यों कोई काम है?
तो मामी ने कहा- आज तुम्हारे मामा की नाईट शिफ्ट है, वो नहीं आयेंगे और मुझे भी नींद नहीं आ रही है, चलो कुछ बातें करते हैं।
तो मैंने कहा- ठीक है!

मैं धीरे से गया और मामी के थोड़ा करीब जाकर सो गया, मैं धीरे से अपनी कोहनी मामी की दाईं चूची पर रख के हाथ हिलाने लगा ऐसे जैसे कि मैं नींद में हूँ।
अब मुझे पूरा यकीन हो गया था कि मामी गहरी नींद में है।
मैं धीरे धीरे उनकी चूचियों को सहलाने लगा, वो अब भी नींद में थी।
फिर मैं उनकी जांघें सहलाने लगा। उस वक्त मेरा 6 इंच का लंड अपने पूरे शवाब पर था।

जब मैंने उनकी चूत पर हाथ लगाया वो किसी हीटर की तरह गर्म थी।
अब मैं आपे से बाहर हो चुका था, मेरे अन्दर किसी का डर नहीं था, जो होगा देखा जायेगा।

लेकिन जैसे ही मैंने अपना 6 इंच का लंड उनकी चूत में डालने गया, उन्होंने मेरा लंड पकड़ लिया।

मेरी तो हालत ख़राब जैसे ‘काटो तो खून नहीं!’
तब मामी ने कहा- यह क्या हो रहा है?
मैंने कहा- सॉरी मामी, मैं बहक गया था, मुझे माफ़ कर दीजिये!
उन्होंने कहा- नहीं, जो काम अधूरा छोड़ा है, उसे पूरा करना पड़ेगा लेकिन मेरे तरीके से!

मैं खुश हो गया।
तो उन्होंने अपनी टांगें फैलाई और कहा- पहले मेरी चूत चाटो!
मैंने बिना समय गंवाए काम पर लग गया।
जैसे ही मैंने उनकी चूत को अपनी जुबान से छुआ, वो सिहर उठी और सिसकारने लगी- अह्ह्ह उम्म्म अम्मम्म रुकना मत सुजीत ओह अह्हह…


Online porn video at mobile phone


mom son sex storysex story in hindi antarvasnaantarvasna story appantarvasna chudai photoindian sex atorieshindi sex kahaniasex grilgujarathi sexsavitabhabhi.comhindi xxx sexbhabi devar sexantarvasna chatantarvasna hindi bhai bahanmaa beta sex storiesdesi hot storiesmaa ki chudai antarvasnaantarvasna hindi kahani comsamuhik chudaiantarvasna doodhsexy babhimaakichudaijyothi hotsex antarvasna comsisterxxxantarvasna suhagraatsister antarvasnasavita bhabhi sex stories????sexi kahaniyafuck storyantarvasna hindi sex storychut chudaisexy auntiesantarvasna 2001www.antarvasnan.com hindiantarvasna com 2014chudai ki kahaniantarvasna maa ko chodafree antarvasna comantarvasna busgay antarvasnadaughtersexsexi storiesantarvasna hindi videoantarvasna rapstories sexindian sexstorysexy auntiesantarvasna boypapa ne chodasex hindi storiesjabardasti chodachudai storiesnew sex storyreal life sex storiesbahan ki chudaitution teacher sexmaa bete ki antarvasnaxxx storydidi ki chudaiantervashnadesi kahaniyajija sali sex???????anandhi nudebhabhi antarvasnamasaj sexmaa bete ki chudaisex hindi story antarvasnagujarati sex storiesenglish sex storyhindisexystorymeri chudaiwww antarvasna hindi sexy story comamma sex storiesdesi sex storyantarvasna story new